Pf Passbook Balance Check Online With UAN Number

सभी Employees के पास EPF (Employees Provident Fund) में अकाउंट होगा| यहाँ आपको इससे जुडी हर बात बताई गयी है| जैसे की EPF Interest Rate, EPF Balance| इसके अलावा आपको यहाँ कैसे EPF balance Check करे? इसके बारे में भी Information दी गयी है|

What is Employees Provident Fund?

हम सब जानते है EPF या नि की Employees Provident Fund. यह एक बचत होने के साथ साथ निवेश योजना भी है, जिसमे आप छोटी किस्तों में बचत भी कर सकते है और इसके साथ आपको उचित एवं चक्रवृद्धि ब्याज मिलता है| Employee Provident Fund में सिर्फ कर्मचारी ही बचत कर सकते है|

EPF balance chek
EPF fund

PF Account के जरिये हमारी गवर्नमेंट कर्मचारी वर्ग को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने कोशिश कर रही है| इस स्कीम के नियमन के लिए हमारी श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने एक सांविधिक संस्था की स्थापना की है|

आपको पता होगा शायद की आपकी सैलरी में से १२ प्रतिशत हिस्सा हर महीने प्रोविडेंट फण्ड में ट्रान्सफर कीया जाता है|

आइये हम Provident Fund के बारे में थोडा और जाने|

Employees Provident Fund अध्यादेश 15 November 1951 में अस्तित्व में आया था| इस अध्यादेश को कर्मचारी प्रोविडेंट फंड अधिनियम 1952 में तबदील किया गया था| यह स्कीम जम्मू कश्मीर के अलावा सभी राज्यों में लागू की गयी है|

Employees Provident Fund स्कीम Employee Provident Fund & Miscellaneous Provisions Act, 1952 के तहत लागू की गयी है| इस अधिनियम के अनुसार यह स्कीम कर्मचारी के सामाजिक एवं आर्थिक विकास के लिए लागू किया गया है|

गवर्नमेंट ने ख़ास कर्मचारीओ के लिए EPF स्कीम को अस्तित्व में लाया गया था| इस स्कीम के तहत कर्मचारीओ को ज्यादा लाभ निवृति के समय मिलेगा| इस स्कीम के लिए EPFO नामंक संस्था इस स्कीम के लिए कम कर रही है|

Employees Provident Fund अधिनियम के अनुसार, अगर कोई कंपनी EPF अकाउंट उनके कर्मचारी के लिए खुलवाना चाहती हो तो उस कंपनी में कम से कम २० कर्मचारी कार्यरत होने चाहिए|

epf fund
epf fund

हम यह भी कह सकते है की यह स्कीम सभी कर्मचारियों के लिए बचत एवं निवेश के लिए सुरक्षित है और इतना ही नहीं इस स्कीम में ज्यादा return मिलता है| इस स्कीम के अंतर्गत ३ स्कीम काम करती है प्रोविडेंट फंड, पेंशन फंड, और बिमा डिपोजिट होती है|

इस अधिनियम के अनुसार, यह स्कीम को Central Board of Trustees के अधिन किआ जाएगा| इस ट्रस्टीज बोर्ड में employee, employer, गवर्नमेंट के प्रतिनिधि नियुक्त किये जाएगे| यह ट्रस्टीज बोर्ड EPF आर्गेनाईजेशन के निचे काम करेगा|

इस स्कीम को बढ़ावा देना का मुख्य कारन retirement के बाद जो आर्थिक रूप से सहारे जरुरत पड़ती है तो उस टाइम पे यह स्कीम के अंतर्गत जो बचत की गयी है उससे आर्थिक सहारा दिया जाता है|

इस स्कीम में तहत जो भी इस योजना में निवेश करता है उसे फिक्स रेट पे amount भरना पड़ेगा| EPF स्कीम में चक्रवृद्धि ब्याज गिना जाता है |

जैसे की मैंने आगे बताया की EPF फंड के लिए आपकी सैलरी से १२ प्रतिशत काटे जाते है|

पर जब आप PF स्लिप देखोगे तो आपको यकीनन एक सवाल होगा की PF में तो सिर्फ ३.६७ प्रतिशत पैसे भरे जाते है

तो,

बाकी के ८.३३ प्रतिशत पैसे कहा गए|

शायद आपको यह भी लगे की आपके पैसे आपका employer चट कर जाता होगा|

है ना?

पर यहाँ बिलकुल ऐसा नहीं है

जी हाँ

आपकी सैलरी का ८.३३ प्रतिशत हिस्सा आपकी पेंशन फंड के लिए जाता है। जो आपको retirement के बाद मिलेगा|

EPF स्कीम के लाभ

टैक्स फ्री रिटर्न

इस योजना के तहत कर्मचारी को जो ब्याज मिलता है वो बिलकुल टैक्स फ्री है| इस योजना में जो रिटर्न मिलेगा उसमे से कोई टैक्स काटा नहीं जाता|

आर्थिक सुरक्षा प्रदाता

यह योजना कर्मचारी को निवृति, आपात कालीन समय में आर्थिक सुरक्षा प्रदान करती है|

निवृति

निवृति के समय हर इंसान को आर्थिक तौर पे मदद की जरुरत पड़ती है| उस समय आपको किसी के सामने हाथ फेलाने नही पड़ेगे|

आपात कालीन समय

आप EPF फंड को आपात कालीन समय में उपयोग कर सकते है जैसे की मेडिकल इमरजेंसी. आप अपने फंड में से आपात कालीन के लिए उपयोग कर सकते है|

दीर्घकालीन बचत एवं निवेश

इस स्कीम में बचत के साथ साथ निवेश भी होता है| यह योजना लम्बे समय तक अच्छा return मिलता है|

निधि का स्रोत

आप इस स्कीम में निवेश किये हुए पैसे आपनी कुछ इमरजेंसी सिचुएशन जैसे की मेडिकल, एजुकेशन, शादी और घर के लिए अपना PF फण्ड यूज़ कर सकते है|

पेंशन स्कीम और बिमा पोलिसी

आपको EPF स्कीम के साथ पेंशन स्कीम और बिमा पोलिसी भी मिलती है| आपके PF फंड में से पेंशन स्कीम के लिए जाते है|

यूनिवर्सल Application

कर्मचारी अपना EPF फंड कही पे भी यूज़ कर सकता है| और अगर वो कंपनी बदलता है तो भी वो अपना EPF फंड वहा पे ट्रान्सफर करवा सकते है|

EPF Member Eligibility Criteria

अगर आप जिस भी कंपनी में जॉब करते हो वहा पे कर्मचारीओ की संख्या २० और उससे ज्यादा हो तभी आप EPF स्कीम के लिए योग्य माने जाओगे|

EPF स्कीम कॉन्ट्रिब्यूशन

EPF स्कीम के लिए कॉन्ट्रिब्यूशन employee/ employer में से कोई एक करेगा| यह कॉन्ट्रिब्यूशन आपकी सैलरी पे आधार पर होगा| EPF कॉन्ट्रिब्यूशन में १२ प्रतिशत हिस्सा आपकी सैलरी से काटा जाएगा और कुछ employer कोन्ट्रीब्युट होगा जो Dearness Allowance के तौर पे जाना जाता है|

वैसे हम जानते है की EPF फंड के लिए सैलरी के १२ प्रतिशत काटे जाते है| पर कुछ कंपनीओ को १० प्रतिशत ही कोन्ट्रीब्युट करना पड़ेगा|

1. वो कंपनी जिसमे २० से कम कर्मचारी काम करते हो|

2. जिस कंपनी को भी BIFR ने बीमार जाहिर किया गया हो| यानी की जो कंपनी आर्थिक रूप से सक्षम नही है|

3. जो कंपनी जूट, बीडी, ब्रिक्स, कोइर, एवं गम का उत्पादन करती है वो कंपनीया

4. जो आर्गेनाईजेशन अपना वेज की लिमिट बांधती है उन्हें भी 10 प्रतिशत हिस्सा देगे।

EPF स्कीम -Interest Rate

हमारी गवर्नमेंट ने EPF का व्याज दर सेंट्रल ट्रस्टीज बॉडी के साथ मिलकर तय होता है।

EPF फंड पे 2015-16 में 8.8% प्रतिशत ब्याज मिलता था और 2016-17 में 8.65 प्रतिशत ब्याज दर मिला था।

EPF फंड पे चक्रबृद्धि ब्याज गिना जाता है।

अब हम आपको EPF बैलेंस चेक करने के अलग अलग तरीके बताएगे।

आइये पहले हम EPF balance के बारे में जानेंगे।

हम जानते है कि EPF फंड के लिए पैसे हमारी सैलरी से जाते है और और कुछ Dearness Allowances जो हमारा employer भरता है और इस फंड का ब्याज मिलाकर जो रकम जमा होती है जो EPF balance है।

अब हम जानेगे की EPF balance में कौन से फंड आते है।

पहेला, जो हमारी सैलरी से 12% काटे जाते है।

दूसरा, वो जो हमारा employer Dearness Allowance के तौर पे जमा करवाए जाते है।

तीसरा, इस जमा करवाई हुई रकम पर ब्याज भी इसमें जमा किया जाता है।

इतना ही नही आपका आपके EPF फंड के लिए जो भी पैसे जाते है उसमें से 30 प्रतिशत पैसे PF फंड के लिए और 70 प्रतिशत पैसे आपके पेंशन फंड के लिए जाते है।

अब हम जानेगे की

कैसे EPF Balance checkकरेंगे?

आपके पास तीन रास्ते है जिससे आप अपना EPF Status चेक कर सकते है।

1. मिस्ड कॉल/SMS सेवा के जरिये

2. मोबाइल एप के जरिये

3. ऑनलाइन/ UAN के जरिये

1. How To Check EPF Balance Through Missed call/ SMS?

जैसे की हम ने आगे देखा की अलग अलग तरीको से अपना Provident Fund Balance की जानकारी प्राप्त कर सकते है जैसे की मोबाइल App, ऑनलाइन, और मिस्ड कॉल/ SMS सर्विस. वैसे तो हमे मोबाइल App और ऑनलाइन epf बैलेंस जानना हो तो आपको इन्टरनेट की जरुरत पड़ेगी| पर अगर हमें किसी दिन इन्टरनेट की सर्विस कही ना मिली तो,

आपको डरने की जरुरत नही है|

क्यों, तो

आप मिस्ड कॉल/SMS सर्विस से भी अपना pf account balance जान सकते हो|

कैसे?

आपको पहेले अपना UAN नंबर प्राप्त करना होगा|

UAN नंबर एक्टिवेट करवाने के लिए क्या करना है?

पहेले, इस पोर्टल पे जाइए  और KYC के नियमो के अनुसार अपने आधार नंबर, पैन नंबर और कुछ जरुरी जानकारी देनी पड़ेगी| और फिर Get Authorization Pin पर क्लिक करे |

और फिर जब आपका UAN एक्टिवेट करवाने के बाद आपने जिस मोबाइल नंबर पर अपना UAN नंबर एक्टिवेट करवाने के बाद आपको 011-22901406 इस नंबर से एल मिस्ड कॉल देना है| आप मिस्ड कॉल देगे उसके बाद आपको एक SMS मिलेगा जिसमे आपका EPF अकाउंट नंबर, आपका नाम, उम्र और आपका EPF बैलेंस होगा|

2. How To Check Epf Balance Through Mobile App?

अब, में आपको बताउंगी की कैसे हम मोबाइल app के जरिये अपना EPF बैलेंस कैसे चेक कर सकते है|

EPFO ने epf बैलेंस चेक करने के लिए m.epf app launch की है| इस app के जरिये आप सारी जानकारी प्राप्त कर सकते है|

अब आपको मोबाइल app से अपना EPFO Member Balance चेक करना हो तो, पहेले आपको app इनस्टॉल करनी पड़ेगी|

इसके लिए,

पहेले, “Google Play Store” ओपन कीजिये|

फिर, उसके Search Box m.epf लिखिए|

अब, Install ऑप्शन पर क्लिक करे

नोट कीजिये: यह application सिर्फ Android सिस्टम पर ही उपलब्ध है|

EPFO जल्द ही यह एप्लीकेशन Blackberry और IOS सिस्टम के लिए उपलब्ध करवाई जाएगी|

मेरे ख्याल से आपके मोबाइल में app install हो गया होगा|

अब आपके सामने ३ ऑप्शन होगे जिसमे से आपको Member ऑप्शन पर क्लिक करे|

EPF balance Check
check epf balance

जिसमे से,

epfo mobile app
epf balance check mobile app

एक, Activate UAN होगा

दूसरा, Balance/Passbook होगा,

अगर आपका UAN नंबर activate किया हुआ नही है तो आपको उसे activate करवाना पड़ेगा और इसके लिए आपको पहेला ऑप्शन पसंद करना होगा|

अगर आपका UAN नंबर activate है तो सीधा आपको  दुसरे ऑप्शन पर क्लिक करना होगा|

जब आप Balance/Passbook ऑप्शन पर क्लिक करेगे तब आपको अपना UAN नंबर और अपना मोबाइल नंबर लिखना पड़ेगा और Show ऑप्शन पर क्लिक करे|

अब, आप अपना EPF बैलेंस और अपने अकाउंट की जानकारी भी ले सकते है|

आपको पिछले सात महीनो तक की पासबुक देखनी हो तो आपको View Passbook ऑप्शन पर क्लिक करे|

3. How To Check EPF Balance Through Online/UAN Number?

pf balance online चेक करने के लिए,

पहेले EPFO की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाइए,

अब आपको अपना UAN नंबर और पासवर्ड से EPFO की ऑफिसियल वेबसाइट पर लोग इन करे|

अब जब आप लोग इन करेगे आपके सामने डाउनलोड कर के एक ऑप्शन हॉगा जिस पर क्लिक करने से आपके सामने दो और प्प्तिओं होगे,

पहेला, Download Passbook

दूसरा, Download UAN card

आपको EPF बैलेंस  देखने के लिए Download Passbook ऑप्शन पर क्लिक करे|

EPF अकाउंट pdf फोर्मेट में डाउनलोड होगा|

EPF Forms

epf claim form
epf form

Form 31

epf फॉर्म 31 तब भरा जाता है जब किसी epf मेम्बर को किसी बड़े खर्चे को पहुचना हो तो अपना फंड अकाउंट से withdraw करना चाहते हो|

Form 14

अगर कोई मेम्बर अपने PF अकाउंट से आपने लाइफ इन्सुरांस पोलिसी को फंडिंग कर सकते हो और इस के लिए epf मेम्बर को form 14 भरना पड़ेगा|

Form 19

अगर कोई मेम्बर अपनी जॉब से निवृति ले या फिर रिजाइन करे या फिर अपनी जॉब से टर्मिनेट करे तो उसे epf फंड पाने के लिए epf form 19 भरना पड़ेगा|

Form 20

फॉर्म 20 तब भरा जाता है जब epf अकाउंट होल्डर की मौत हो जाए तो ऐसे हालत में epf मेम्बर का नॉमिनी यह फॉर्म भरके पैसे withdraw कर सकता है|

Form 10C

अगर कोई employee अपना epf शेयर रिफंड लेने के क्लेम करे तो उसे फॉर्म 10C भरना पडेगा|

Form 10D

epf फंड की रिकवरी के टाइम पे फॉर्म 10D भरा जाता है|

Form 5.I.F.

जब प्रोविडेंट फंड की अमाउंट का पेमेन्ट होने के समय पर फॉर्म 5(i.f.) तब भरा जाता है|

Revised Transfer Claim Form

यह फॉर्म 4th july 2013 के दिन अस्तित्व में आया था| जब कोई employee अपना PF अकाउंट एक कंपनी से दूसरी कम्पनी में तबदिल करवाना चाहते हो तो तब यह फॉर्म भरा जाता है|

Statement IW-1

यह स्टेटमेंट तब यूज होता है जब कोई भी employee आंतरराष्ट्रीय वर्कर्स मेम्बरशिप के लिए योग्य हो|

Advanced Stamped Receipt

यह रिसीप्ट तभी यूज होती है जब कोई भी employeeआंतरराष्ट्रीय वर्कर्स मेम्बरशिप के लिए योग्य हो|

Life Certificate/ Non Re- Marriage Certificate

अगर कोई भी employee जब आपने रिटायरमेंट के बाद पेंशन का लाभ उठाना चाहता हो तब यह सर्टिफिकेट यूज होता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *