Initiatives Under Samagra Shiksha Abhiyan Objectives & Feature

Samagra Shiksha Abhiyan को  24 मई 2018 को लागु किया गया था। इसके अलावा Samagra Shiksha Abhiyan Objectives, Feature और Initiatives Under Samagra Shiksha Abhiyan के बारे में जाने।

Samagra Shiksha Abhiyan In Hindi

2018-19 union budget को पढ़ते हुए श्री अरुण जेटली जी ने समग्र शिक्षा अभियान (Samagra Shiksha Abhiyan) की घोषणा की गयी थी। 24 मई 2018 को Samagra Shiksha Abhiyan को लांच किया गया था।

Samagra Shiksha Abhiyan के तहत प्री-स्कूल से 12 वी कक्षा तक स्कूलिंग सिस्टम को विभाजित करे बिना चलाया जाए

samagra shiksha abhiyan wiki

यह Samagra Shiksha Programme स्कूलिंग सिस्टम के लिए अधिकृत कार्यक्रम है।

इस अभियान को स्कूल की प्रभावशालिता बढ़ाने के हेतु से समग्र शिक्षा अभियान के तहत तीन योजनाए बनायीं गयी है।

सर्व शिक्षा अभियान

राष्ट्रिय माध्यमिक शिक्षा अभियान

शिक्षकों की पढाई

Samagra Shiksha Yojana के तहत सेक्टर वाइज स्कीम डेवलपमेंट प्रोग्राम और अलग स्तर पर यानी की राज्य स्तर पर, जिल्ला स्तर पर और तालुका स्तर पर स्कीम का इम्प्लीमेंटेशन होने से खर्च भी कम हो जाएगा।

तदुपरांत, जिला स्तर पर शिक्षण विकास के लिए स्ट्रेटेजिक प्लान तैयार किया गया है।

samagra shiksha abhiyan pdf

इस प्रोजेक्ट का फोकस प्रोजेक्ट ऑब्जेक्टिव जो की हर स्तर पर परफॉरमेंस में बढ़ावा करना और स्कूल के परिणामो में सुधार लाना।

Samagra Shiksha Yojana का धुंधला सा विज़न यह है की प्री-स्कूल से प्राथमिक, ऊपरी प्राथमिक, माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक स्तर पर नहीं पर एक ही स्कूलिंग सिस्टम विकसित करना है।

इस योजना को लागू करने का विज़न समावेशी सिस्टम और एक सा क्वालिटी का शिक्षण को सुनिश्चित करना।

Samagra Shiksha Abhiyan Objectives

Samagra Shiksha Abhiyan का मुख्य उद्देश्य गुणवत्ता सभर शिक्षण देना और उससे शिक्षण परिणामो को बढ़ाना है।

स्कूल शिक्षा के लिए सामजिक और जाती अंतरालों को मिटाके सभी को एक सा गुणवत्ता वाला शिक्षण प्राप्त कर सके।

स्कूल दौरान सभी स्तरों पर इक्वलिटी को सुनिश्चित करना है।

स्कूल कायदो में कुछ स्टैण्डर्ड को सुनिश्चित करना।

व्यवसायीकरण के लिए शिक्षा प्रदान करना।

samagra shiksha abhiyan 2018

शिक्षको के प्रशिक्षण के लिए स्टेट इंस्टीटूट और DIET दो नो ही नोडल एजेंसी तौर पर कार्य करेगी।

Samagra Shiksha Abhiyan Features

शिक्षा के लिए होलिस्टिक अभिगम

प्रीस्कूलिंग से १२ वी कक्षा के लिए एक ही स्कीम लागू की जाएगी और जो स्कूल सिस्टम अभी लागू की  गयी है उसे बदला जाएगा। राज्यों द्वारा प्री प्राइमरी शिक्षा के लिए समर्थन किया जाएगा।

एडमिनिस्ट्रेटिव सुधार लाना

सिंगल और एकीकृत एडमिनिस्ट्रेटिव संरचना बनायी जाएगी और राज्यों को अपने व्यवधान के लिए छूट दी जाएगी।

शिक्षा के लिए फंड बढ़ाना

इस योजना को लागू करने के लिए बजट बढ़ाया गया है। गुणवत्ता इम्प्रोवमेन्ट के लिए लिए गए कदम और परिणामो के आधार पर ग्रांट प्रदान की जाएगी।

क्वालिटी शिक्षा पर  ध्यान देना

शिक्षा क्वालिटी में सुधार किया जाएगा। शिक्षकों को तालीम द्वारा कार्यक्षमता में बढ़ावा किया जाएगा। भावी शिक्षकों में सुधर लाने के लिए तालीम संस्थाओ को मजबूत किया जाएगा। SCERT की मदद से तालीम को गतिशील और आवश्यक बनायीं जाएगी। स्कूल में लाइब्रेरी बनाने के लिए सरकारी ग्रांट प्रदान की जाएगी। १ लाख स्कूलों को इस योजना के तहत लाइब्रेरी बनाए की ग्रांट प्रदान की गयी है।

samagra shiksha scheme pib

टीचर और टेक्नोलोजी के जरिये शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाया जाएगा। परिणामो को लागू होते हो वैसे रिसोर्स भी प्रदान किये जाएगे।

डिजिटल एजुकेशन देना

5 सालो के अंदर ही सभी स्कूलों को डिजिटल बोर्ड प्रदान किया जाएगा जिससे छात्रों को टेक्नोलोजी की मदद से अच्छे से समाज पाएगे और स्मार्ट क्लास, डिजिटल बोर्ड और DTH चैनल्स से डिजिटल टेक्नोलोजी का उपयोग बढ़ाया जाएगा।

स्कूलो को सुदढ़ बनाना

स्कूलों का एकीकरण करके उसकी गुणवव्ता में सुधार लाया जाएगा। हर कक्षे के बच्चे को परिवहन सुविधा प्रदान की जाएगी। स्कूलों में इंफ्रास्ट्रक्चर भी प्रदान किया जाएगा। कम्पोज़िट ग्रांट भी प्रदान की जाएगी मगर वो भी बच्चो के एडमिशन पर ही प्राप्त होगी।  

गर्ल एजुकेशन पर फोकस करना

गर्ल एजुकेशन और एम्पावरमेंट पर ध्यान दिया जाएगा। KGBV विद्यालयों में ६ से ८ वी कक्षा तक शुरू की जाएगी। बेटियों को हायर सेकेंडरी क्लास में सेल्फ डिफेन्स की ट्रेनिंग दी जाएगी। CWSN स्कूलों में पढ़ने वाली बेटियों को स्टीपेंड दिया जाएगा। 

समावेशन पर ध्यान देना

RTE कायदे के अनुसार एडमिशन प्राप्त बच्चो को स्कूल यूनिफार्म, बुक्स, एवं स्टिपेन्ड प्रदान किया जाएगा। स्पेशल नीड वाले बच्चो को 3000 रुपये स्टिपेन्ड दिया जाएगा। 

कौशल विकास पर ध्यान देना

ऊपरी प्राइमरी लेवल पर व्यावसायिक कौशल विकास के लिए तालीम दी जाएगी। हायर सेकेंडरी क्लास में वोकेशनल शिक्षा भी प्रदान की जाएगी। 

खेल शिक्षा पर ध्यान देना

सभी स्कूलों में खेल कूद के उपकरण प्रदान करवाए जाएगे ताकि सभी बच्चे खेल कूद में अव्वल आ पाए और अपना मनोबल बढ़ा सके। 

क्षेत्रीय संतुलन बनाना

क्षेत्रीय संतुलन के तहत सभी बच्चो को बैलेंस्ड एजुकेशन प्रदान किया जाएगा। 

Initiatives Under Samagra Shiksha Abhiyan 

Padhe Bharat Badhe Bharat

सर्व शिक्षा अभियान के तहत Padhe Bharat Badhe Bharat की पहल की गयी है। यह केवल दो हेतु से कार्यन्वित की गयी है। जिन बच्चो को भाषा विषयो में पढ़ना और लिखना नहीं आता है उनमें भाषा विषय पढ़ने के लिए इंटरेस्ट जगाना और गणित जैसे सब्जेक्ट में इंटरेस्ट जगाना।

Shalakosh

Shalakosh स्टूडेंट्स की लाइफस्टाइल को होलिस्टिक कवरेज प्रदान करती है। इस कवरेज का गोल छात्रों परिणाम को सुधारना है।

Rashtriy Avishkar Abhiyan

ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट मंत्रालय ने  Rashtriy Avishkar Abhiyan सेट किया गया था। यह एक अभिसरण स्ट्रक्चर है जिसका उद्देश्य स्टूडेंट में रचनात्मकता का भाव पैदा करवाना, बच्चो में विज्ञान एवं गणित के प्रति रस पैदा करेगी।

Swachh Vidyalaya

Swachh Vidyalaya Pahal की शुरुआत भी इस योजना के तहत 2014 में शुरू की गयी थी। Swachh Vidyalaya  Pahal के चलते हर एक स्कूल में लड़की और लड़को के लिए अलग अलग शौचालय की बनाये जाएगे। Swachh Vidyalaya  Pahal से बच्चो और स्कूल को स्वच्छता के लिए प्रेरित किया जाएगा।

samagra shiksha abhiyan guidelines

Shala Siddhi

Shala Siddhi प्रोग्राम को 1.6 मिलियन स्कूल तक स्कूल ेवोलुशन सिस्टम के तहत पहुंचाया गया है। Shala Siddhi प्रोग्राम के तहत स्कूल पेरोफॉर्मन्स को इम्प्रोव करने के लिए स्कूल एवोलुशन किया जाएगा।

NAS & SAS, Learning Outsources

NAS & SAS, Learning Outsources प्रोग्राम के तहत बच्चो में पढाई को लेके जो भी इम्प्रूवमेंट आएगा उसे मॉनिटर करेगी। सिर्फ बच्चो के इम्प्रोवेमेन्ट्स को ही नहीं यह गवर्नमेंट की स्कूलिंग सिस्टम को भी मॉनिटर करेगी।

Diksha

Diksha टीचर्स की पढाई और प्रोफेशनल डेवलपमेंट के लिए बनाया गया प्रोग्राम है। इस प्रोग्राम के तहत टीचर को डिजिटल माध्यमो से तालीम प्रदान की जाएगी।

School Leadership

इस पहल के जरिये बच्चो में लीडरशिप विकसित की जाएगी। स्कूल के लीडर्स को नॉलेज, कौशल और स्कूल में चेंज लाने की भावना से चयनित किये जाते है। 

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *